Advertise

साहित्‍य सुगंध हिन्दी साहित्य की सेवा का मंच, है, आप भी सहयोग देना चाहते हैं तो अपना परिचय, तस्वीर,रचनायें -मेल पते पर प्रेषित करें।
 

श्रीखंड यात्रा

11 comments
हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिला के आनी उपमंडल में 18 हज़ार की ऊंचाई पर स्थित है श्रीखंड महादेव ! श्रीखंड की यात्रा की प्रतीक्षा हर वर्ष की तरह इस बार 16 जुलाई से आरम्भ हो रही है ! यह यात्रा 24 जुलाई तक चलेगी ! पिछले 15 वर्षो से इस यात्रा का सचालन श्री खंड सेवा दल द्वारा किया जा रहा है ! यात्रा जुलाई और अगस्त माह में ही होती है क्योंकि शेष दिनों यहाँ बर्फ पड़ी रहती है ! यात्री शिमला से रामपुर होते हुए यात्रा आरम्भ करते है ! शिमला से रामपुर 130 और रामपुर से बागीपुल 35 किलोमीटर है ! बागीपुल से जांव तक सात किलोमीटर तक वाहन का प्रयोग किया जाता है ! जावं से आगे पैदल यात्रा करनी पड़ती है ! यात्रा के तीन पड़ाव सिंहगाड, थाच्डू और भीमडवार की है जांव से आगे की यात्रा पैदल होती है ! जांव से सिंहगाड 3 किलोमीटर है ! सिंहगाड से 8 किलोमीटर और थाचरू तथा भीमडवार 9 किलोमीटर है ! यात्रा के तीनो पड़ाव में श्रीखंड सेवा दल की तरफ से यात्रियों के लिए दिन रात का लंगर चलाया जाता है ! भीमडवार से श्रीखंड की दुरी मात्र 7 किलोमीटर है ! जांव से श्रीखंड के लिए 18 किलोमीटर की कठिन पैदल यात्रा है ! जिसे यात्री हर हर महादेव के नारों और भजनों के साथ पूरा करते है ! यात्रा के दोरान यात्री कई दर्शनीय स्थलों का दर्शन भी कतरे है जिनमें प्रमुख है प्राकृतिक शिव गुफा देव ढांक , पोराणिक परसु राम मंदिर , दक्षिणेश्वर महादेव व् अम्बिका माता मंदिर निरमंड , संकट मोचन हनुमान मंदिर आरसु, गौर मंदिर जांव, सिंह गाड , ब्राहती नाला , थाचरू जोगनी जोत्काली घाटी, ढँक द्वार , बकासुर वध, कुन्षा , अनेक स्थल है ! यात्रा के दौरान अद्भुत और दुर्लभ जडी बूटियों के दर्शन भी करते हैं ! रास्ता कठिन और संकरा है अक्सर यात्री रास्ता भी भूल जाते है ! यात्रिओं को ग्राम कम्बल टॉर्च लाठी और ग्राम जुराबों सहित टिकाऊ जूतों को लेन की सलाह दी जाती है और अस्वस्थ लोगो को इस यात्रा को नहीं करने दिया जाता क्योंकि रास्ता बेहद ही कठिन है !
बेशक पिछले 15 वर्षों से सेवा दल यात्रा आयोजित कर रहा है परन्तु श्रीखंड महादेव की कैलाश यात्रा अभी तक पर्यटन के मानचित्र पर नहीं आई है !

Buzz It

11 Responses so far.

  1. aarkay says:

    विक्षिप्त जी , इस रोचक जानकारी के लिए आभार . शिमला के रिज से जो बर्फ से ढकी चोटियाँ दिखाई देती हैं , क्या वे
    श्रीखंड श्रृंखला की ही तो नहीं ? वैसे बचपन से हम इन्हें हिमालय ही समझते आये हैं.

  2. @aarkay जी
    आभार ! आपके सन्देश मुझे प्रोत्साहित करते हैं! शिमला के रिज से श्रीखंड की पहाड़ियां नहीं दिखाई देती! पुन: आपका आभार!

  3. अपना देस में केतना अईसा जगह है जिसका बारे में बहुत कम लोग जानता है... आप एतना अच्छा जानकारी दिए इसके लिए धन्यवाद...बहुत मनोरम जगह है अऊर यात्रा भी मनोरम होगा..

  4. achchhee jaankaari mili shayad kabhi ghoomne ko bhi mile.

  5. NITYIN says:

    विक्षिप्त जी, इस आलेख के लिए आभार. हिमाचल लाइव पर भी श्रीखंड यात्रा पर एक लेख प्रकाशित किया है. इसे भी देखें. http://www.himachallive.com/srikhand-mahadev-yatra.html

  6. विक्षिप्त जी, आप हिमाचल प्रदेश के विभिन्न मनोरम स्थलों की जानकारी देते रहें और हम जानते रहें कि कितनी यात्राओं के बाद भी कितना कुछ छूट जाता है। श्रीखंड यात्रा सम्बन्धी आलेख महत्त्वपूर्ण है।

  7. रोचक और ज्ञानवर्द्धक जानकारी से परिपूर्ण महत्वपूर्ण आलेख !

  8. अदभुत तस्वीर, अच्छा रहता कि यात्रा संबंधित और तस्वीर पोस्ट करते। फिर भी महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध करा कर आपने बहुत ही सराहनीय काम किया है।

  9. अदभुत तस्वीर, अच्छा रहता कि यात्रा संबंधित और तस्वीर पोस्ट करते। फिर भी महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध करा कर आपने बहुत ही सराहनीय काम किया है।

  10. अच्छा लेखन ,बधाई ।

  11. अच्छा लेखन ,बधाई ।

Leave a Reply

 
[ साहित्‍य सुगंध पर प्रकाशित रचनाओं की मौलिकता के लिए सम्‍बधित प्रेषक ही उतरदायी होगा। साहित्‍य सुगंध पर प्रक‍ाशित रचनाओं को लेखक और स्रोत का उललेख करते हुए अन्‍यत्र प्रयोग किया जा सकता है । किसी रचना पर आपत्ति हो तो सूचित करें]
stats counter
THANKS FOR YOUR VISIT
साहित्‍य सुगंध © 2011 DheTemplate.com & Main Blogger. Supported by Makeityourring Diamond Engagement Rings

[ENRICHED BY : ADHARSHILA ] [ I ♥ BLOGGER ]